• अपने कर्मों की संभाल करें (Take Care of Your Karma – In Hindi)

    अपने कर्मों की संभाल करें हमारा जीवन सीमीत है । गिने हुए घंटे और मिनट उपलब्ध हैं । हमारे जीवन का हमें मालूम है, और हमारी मौत पहले से ही तय है । तो यह हम पर निर्भर करता है कि हम अपना समय कैसे प्रयोग करते हैं । अगर हम अपना समय व्यर्थता में, Continue reading »

  • परेशान या शूरवीर? (Worrier or Warrior? – In Hindi)

    परेशान या शूरवीर क्या आप जानते हैं कि चिंता करना एक बिमारी है । हाँ, यह सच में एक बीमारी है! इसके लिए कोई दवाई या औषधि नहीं है, लेकिन इससे तनाव और चिंता पैदा होती है । चिंता करने से दूसरी बड़ी बीमारीयाँ भी हो जाती हैं जैसे दिल की बीमारी, पाचन तंत्र और Continue reading »

  • दूरदर्षिता और नैतिकता से भरपूर महापुरूष (A Man of Vision – In Hindi)

    दूरदर्षिता और नैतिकता से भरपूर महापुरूष इस सप्ताह 18 जनवरी को मैंने ब्रहमाकुमारी मेडिटेशन संस्था के संस्थापक ब्रहमा बाबा की पुण्य तिथी मनाई । उनकी आत्मा 1969 में चली गई परन्तु उनकी विरासत आज भी है । वे एक महान दूरदर्शी थे और वे कुलीन और अच्छे हृदय के व्यक्ति थे । उनके जीवन काल Continue reading »

  • नई शुरूआत – नए आप! (New Beginnings – New You – In Hindi)

    नई शुरूआत – नए आप! नएपन के लिए हमारा उमंग स्वाभाविक है । असल में, हमें प्रत्येक पल नवीकृत होना है; हमारा शरीर निश्चित रूप से हमारे लिए यह स्वाभाविक रूप से करता रहता है, लेकिन कभी कभी हमारी आत्मा पीछे छूट जाती है । अगर फूल मुरझाऐंगे नहीं तो हमें आश्चर्य होगा । तो Continue reading »

  • मुझे भरोसा है… (I Believe in Hindi)

    मुझे भरोसा है… मुझे भरोसा है कि एक बेहतर संसार आ रहा है । और उसके‍ लिए हमें बहुत कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता है! हाँ प्रियजनों! बहुत अधिक मेहनत! हम अज्ञानता और विवशता में केवल बैठ कर देख नहीं सकते । जैसे जैसे अनैतिक या काली ताकतें अपनी शक्ति को बढ़ा रही हैं वैसे Continue reading »

  • मेरे मरने से पहले (Before I Die in Hindi)

    मेरे मरने से पहले… हम सभी को एक दिन मरना है! मौत हमारी यात्रा का अंत नहीं है और मैं इस बात में भी विश्वास नहीं करती कि हमें इससे डरना चाहिए, मगर फिर भी यह अच्छी बात होगी अगर हम इस को कुछ महत्व दें । Listen to the Audio हम सब सोचते हैं Continue reading »

  • मनोभाव (Atttitude in Hindi)

    मनोभाव मनोभाव को किसी भी रूप में देखा जा सकता है चाहे कुछ नकारात्मक, या कुछ ‘कूल’ और मनचाहा – यह आपके मनोभाव पर निर्भर करेगा! मूल रूप से इस शब्द का अर्थ किसी मनुष्य के स्वभाव और तरीके से है, लेकिन आधुनिक संदर्भ में इसका अर्थ निर्भयता साबित करने से, ढिठाई या अभिमान से Continue reading »

  • अविष्कार मोड (Discovery Mode – in Hindi)

    अविष्कार मोड हम में से सब का संसार के प्रति अपना दृष्टिकोण है और हमें लगता है कि हमारा ही सबसे सही है! जब दूसरे लोगों का घटनाओं के प्रति दृष्टिकोण और समझ जब हमसे मेल नहीं खाती तो हम निर्णय कर लेते हैं कि उनका विवरण गलत है । हम सभी अनूठे हैं तो Continue reading »

  • अपनी आवश्यकताओं को कम करें, अपने लालच का त्याग करें (Reduce Your Need, Forsake Your Greed – in Hindi)

    अपनी आवश्यकताओं को कम करें, अपने लालच का त्याग करें   क्या हम इस बात को स्वीकार करते हैं कि जिस प्रकार का विश्व आज है उसे निमार्ण करने में हमने भी भूमिका निभाई है? हरेक चयन जो हम करते हैं और हरेक खरीदारी जो हम करते हैं, तो मिलकर हम विश्व का निमार्ण करते Continue reading »